फरिश्तो से कोई, मेरी बस ये फरयाद लगा देता,
मैं इश्क़ में रमा हुआ, उसी दुनिया में अच्छा हूँ||

Advertisements