गुज़रते वक़्त का नहीं, बदलते हुए का खौफ है,
भले ही ज़िन्दगी का कोई मोल नहीं आज,
शुक्र है मोहब्बत अभी भी अनमोल है।।

Advertisements